Haldighati aur Maharana Pratap
CoreApps Lab
1.4 Varies with device
हल्दीघाटी और महाराणा प्रताप, एक-दूसरे के पर्याय हैं। हल्दीघाटी से लोग महाराणा प्रताप को जानते हैं और महाराणा प्रताप से हल्दीघाटी को। महाराणा प्रताप ‘हिन्दू स्वातंत्र्य’ और ‘राष्ट्रीय चेतना’ का प्रतीक बन गये हैं तो हल्दीघाटी ‘भारतीय शौर्य’ और ‘राष्ट्रीय पराक्रम’ का प्रतिबिम्ब। हल्दीघाटी, भारत के उन प्रसिद्ध समरांगणों में से एक है जिनमें भारतीय शौर्य, साहस, पराक्रम, विजय एवं आत्मोत्सर्ग की गौरव गाथाएं लिखी गईं। ईक्ष्वाकुओं की उज्जवल परम्पराओं से सम्पन्न गुहिल वंश में उत्पन्न महाराणा प्रताप, इस युद्ध के पश्चात् भारतीय जन-मानस में प्रदीप्त रहने वाली एक ऐसी दिव्य ज्योति के रूप में प्रकाशित हुए जो विगत लगभग पांच शताब्दियों से हिन्दुआनी आन-बान-शान का उजाला पूरी धरती पर फैला रही है।

हल्दीघाटी के मैदान में न केवल महाराणा प्रताप ने, अपितु उनके सेनानायक झाला मान, तंवर राजा रामशाह और महाराणा के अश्व चेटक ने ‘राष्ट्र-आराधन’ के ऐसे अनूठे प्रतिमान स्थापित किये जो आज भी संसार के किसी भी मनुष्य का हृदय उदात्त भावों से परिपूर्ण एवं रोमांचित कर देते हैं। यही कारण है कि कर्नल टॉड ने हल्दीघाटी को भारत का ‘थर्मोपेली’ कहकर इसका अभिनंदन किया।

Content rating: Everyone

Requires OS: 4.0 and up

...more ...less